Laptop Vs Desktop In Hindi – दोस्तों अगर आप जानना चाहते है की आपके लिए कौन सा कंप्युटर जरूरी है लैपटॉप की डेस्कटॉप तो ये आर्टिकल आपके लिए है क्योंकि आपको इसमे बताया गया है की ऐसा कौन सा बात है जिसके कारण आपको डेस्कटॉप और लैपटॉप के साथ जाना चाहिए ।

Laptop Vs Desktop In Hindi

अक्सर ऐसा लोग भी होते है जिनको कोई गाइड करने वाला नहीं होता है की कौन सा कंप्युटर कैसा काम करता है और किसको लेना चाहिए, मतलब की अपने काम के अनुसार मुझे कौन सा कंप्युटर लेना चाहिए उसके बारे मे कोई नहीं बताता है ।

आज हमलोग सारे चीजों को categories के साथ डिफाइन करेंगे और उसके बारे मे डीटेल मे जानेंगे ताकि आपको समझने मे आसानी होगा की हमे किस कंप्युटर के साथ जाना चाहिए तो चलिए जानते है ।

Laptop Vs Desktop In Hindi

तो चलिए जानते है की Laptop Or Computer Me Kise Lena Chahiye?

Portable

जैसा की हम सभी जानते है की कंप्युटर या फिर डेस्कटॉप मे मानिटर, कीबोर्ड, माउस और सीपीयू ये सब अलग अलग होता है और वहीं लैपटॉप मे सभी एक जगह मे स्टोर रहता है और सुटकेश जैसा रहता है जिसको कहीं भी लेकर जा सकते है ।

लेकिन डेस्कटॉप मे अलग अलग भाग होने के कारण उसको बाहर नहीं ले जा सकते है या फिर एक जगह से दूसरे जगह नहीं लेकर जा सकते है जैसे की आप अगर घर मे काम कर रहे है और आपको लगता है की मैं घर से बाहर जाकर या फिर पार्क मे जाकर बैठ कर अपना काम करू तो आप ये नहीं कर सकते है ।

लेकिन वहीं अगर आपके पास लैपटॉप है तो आप किसी भी जगह से काम कर सकते है चाहे आप travelling कर रहे हो तो आप उस टाइम भी काम कर सकते है क्योंकि लैपटॉप आपके बैग मे रहेगा और आप निकालकर आप काम करने लगेंगे ।

मेरा समझाने का मतलब ये है की अगर आपका काम Travelling जैसा हो या फिर एक जगह पर बैठ कर नहीं करने लायक हो तो आप लैपटॉप ले सकते है और अगर नहीं है जैसे की अगर ऑफिस मे कंप्युटर चाहिए तो आप डेस्कटॉप ले सकते है क्योंकि उसको लेकर आपको इधर उधर नहीं जाना है ।

ऑफिस के लिए ही नहीं मैं वो हरेक जगह का बात कर रहा हूँ जहां पर आपको एक जगह से दूसरे जगह नहीं जाना है जैसे की अगर आपका शॉप है तो आप उसमे डेस्कटॉप रख सकते है और उसी पर आपका सारा काम हो जाएगा ।

Laptop Vs Desktop In Hindi – इस जगह पर आपको लैपटॉप जीतता है ।

Power

अगर आप डेस्कटॉप लेते है तो उसमे आपका बैटरी नहीं लगा हुआ होता है जिसके कारण आपको बिजली से ही कंप्युटर पर काम करना होगा और वैसे जगह पर अगर आप काम करते है जहां पर बिजली नहीं रहता है या फिर आपका घर वैसे जगह पर है तो आप डेस्कटॉप नहीं ले ।

आप लैपटॉप ले लीजिए क्योंकि उसमे बैटरी रहता है और जब आपका काम हो तब आप उसपर काम कर ले और जब बिजली आए तो उसको चार्ज कर ले, एक लैपटॉप कमसे कम 4 घंटा का बैटरी चला सकता है ।

मतलब की आप लगातार 4 घंटा काम कर सकते है अपने लैपटॉप से वो भी अगर बिजली घर मे नहीं रहे तब भी, मान लीजिए की अगर आपके ऑफिस से फोन आता है की आपको ये काम करना है अभी और उस समय आपके घर मे बिजली नहीं है और आप डेस्कटॉप रखे हुए है तो आप वो काम नहीं कर सकते है ।

लेकिन वही अगर आपके पास लैपटॉप है तो उसी समय मे आप अपना काम कर सकते है । लेकिन एक बात और है की अगर आपके घर मे बिजली नहीं रहता है और आप फिर भी चाहते है की डेस्कटॉप ले तब आप इंवर्टर लेकर के काम चला सकते है ।

Laptop Vs Desktop In Hindi – इस जगह पर आपको लैपटॉप जीतता है ।

Speed

स्पीड तो प्रोसेसर और रैम पर निर्भर करता है और दोनों का प्रोसेसर और रैम अगर सैम रहे तो आपका स्पीड मे कोई अंतर नहीं रहता है मतलब की दोनों का स्पीड सैम ही रहता है और इसमे किसी तरह के कोई दिक्कत नहीं रहता है ।

क्योंकि कोई भी प्रोसेसर का स्पीड सैम ही रहता है चाहे वो लैपटॉप के लिए हो या फिर डेस्कटॉप के लिए हो ।

Price

ये सबसे ज्यादा जरूरी है जिसको कहते है बजट। तो इसमे अगर हम सीधे बात मे बोले तो लैपटॉप महंगा होता है क्योंकि इसमे कंपनी खुद के अनुसार हार्डवेयर देती है मतलब की अगर आप एक लैपटॉप लेते है तो उसमे SMPS, रैम, प्रोसेसर, मदरबोर्ड और हार्ड डिस्क इत्यादि सभी कंपनी तय करती है की आपको क्या देना चाहिए ।

लेकिन वही अगर हम बात करे डेस्कटॉप की तो आप अपने मन से खुद के अनुसार इसमे चेंज कर सकते है जैसे की अगर आप रैम किसी और कंपनी के लगाना चाहते है तो वो लगा सकते है, मतलब की अपने अनुसार सभी हार्डवेयर को आप सेट कर सकते है । इसीलिए इसमे पैसा कम लग जाता है ।

Laptop Vs Desktop In Hindi – इस जगह पर आपको डेस्कटॉप जीतता है ।

Screen Size

लैपटॉप मे हमलोग देखते है की एक स्क्रीन लगा हुआ होता है जो की फिक्स रहता है हमेशा के लिए की जब भी लगेगा तो इतना ही साइज़ का लगेगा लेकिन वही अगर हमलोग डेस्कटॉप के बारे मे बोले तो उसमे आप अपने अनुसार कितना भी साइज़ का स्क्रीन लगा सकते है ।

अगर आपको बड़ा स्क्रीन पसंद है तो आप उसको भी अटैच कर सकते है चाहे वो कितना भी बड़ा हो HDMI और VGI केबल के द्वारा आप उसमे देख सकते है और अपने कम्प्यूटर के स्क्रीन को बड़ा करने मे उसका मदद ले सकते है ।

ये बात नहीं है की आपका लैपटॉप का स्क्रीन उतना बड़ा नहीं हो सकता है, लैपटॉप के स्क्रीन को भी आप बड़े मे कन्वर्ट कर सकते है उसी केबल के मदद से लेकिन बात ये है की लैपटॉप के स्क्रीन तो उतना ही बड़ा रहेगा न जितना की आपका दिया हुआ है ।

Laptop Vs PC In Hindi – इस जगह पर आपको डेस्कटॉप जीतता है ।

Component Change

इसका मतलब ये है की आप चाहकर भी लैपटॉप को घर मे नहीं खोल सकते है और उसमे कुछ लगा सकते है या फिर आप चाहो तो घर मे ही लैपटॉप को साफ कर दो अंदर से क्योंकि उसका सभी कम्पोनन्ट छोटे छोटे होते है और चुकी जगह कम रहता है तो सब एक दूसरे से सटे हुए होते है ।

इसलिए अगर गलती से भी एक भी वायर अगर टूट जाता है या फिर किसी तरह के कोई Problem आ जाता है तो आपको लेनी के देनी पड़ सकता है, इसलिए आपको लैपटॉप को घर पर नहीं खोलना चाहिए या फिर आपको अच्छी तरह से जानकारी हो तभी खोलने का प्रयाश करे ।

लेकिन वही अगर डेस्कटॉप के सीपीयू के बारे मे बात करे तो आप देखेंगे की उसको खोलना एकदम आसान है और उसमे आप जैसे चाहो वैसे साफ कर सकते है और हार्डवेयर को चेंज कर सकते है घर पर ही ।

इससे आपका पैसा बच जाएगा दुकान का और उसी से आप कुछ अलग काम कर सकते है ।

Laptop Vs Computer In Hindi – इस जगह पर आपको डेस्कटॉप जीतता है ।

Rest

रेस्ट का बात यहाँ पर ये आता है की जैसा की डेस्कटॉप के लिए आपको टेबल और कुर्सी चाहिए आपको, जिसपर बैठ कर काम करना पड़ता है और अगर आप ज्यादा देर तक बैठे रहते है तो शरीर मे दर्द होने लगता है ।

तो उस समय सोचते है की लैपटॉप रहता तो थोड़ा बेड पर लेट कर चल लेते है या फिर पैर मोड कर आराम से बैठ कर चलाते लेकिन आप उस समय ऐसा नहीं कर सकते है लेकिन वही अगर आपके पास लैपटॉप रहे तो आप किसी जगह से जाकर चला सकते है और अपण काम कर सकते है वो भी एकदम आराम से ।

Difference Between Computer and Laptop In Hindi – इस जगह पर आपको लैपटॉप जीतता है ।

ये भी पढे –

PAN Card Kya Hota Hai? – HindiMeMaster

C Programming Language Kya Hota Hai Aur Kaise Sikhe ? – HindiMEMaster

Android Kya Hai? Aur Features Of Android – HindiMeMaster

व्हाट इस सर्वर इन हिंदी – What Is Server In Hindi?

Conclusions

तो दोस्तों आशा करता हूँ की अब आपको चल गया होगा की Laptop Vs Desktop In Hindi, Computer Vs Laptop In Hindi ताकि आप आसानी से जान सको की आपको लेना क्या चाहिए ?

Subscribe Now For Getting Tips-

1 Comment

YT Support Hindi · October 29, 2020 at 2:45 pm

Superb Dude – Keep doing – YT Support Hindi

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »