C Programming Language Kya Hota Hai Aur Kaise Sikhe ? – HindiMEMaster

C Programming Language Kya Hota Hai? : अगर आप सी लैंग्वेज के बारे मे जानना चाहते है तो आज हम इसी के बारे मे बात करने वाले है जिसके मदद से आपको C Bhasha Kya Hai समझने मे आसानी होगा और इसके लिए आपको कहीं जाने की जरूरत नहीं है ।  

C Programming Language Kya Hota Hai?
C Programming Language Kya Hota Hai?


अगर आप इंजीनियरिंग या फिर वोकैशनल कोर्स कर रहे है तो आपको C Language के बारे मे पढ़ना है और इसके बारे मे आपको डीटेल मे जानना है की C Program Kaise Banaye और C Language Kaise Sikhe , क्योंकि इसके बिना आपका कोई सॉफ्टवेयर नहीं बनने वाला है । 

                                                                                   तो चलिए पहले History Of C Language In Hindi जान लेते है उसके बाद जैसे जैसे बढ़ेंगे वैसे वैसे इसके बारे मे ज्ञान लेते चलेंगे और इसके बारे मे पूरी तरह से जानते चलेंगे । 

History Of C Language In Hindi

1960 के बाद बहुत सारे Programming Languages आए जो की अलग अलग काम के लिए बनाया गया था जैसे की कोबोल ( Cobol ) जो की बिजनस परपस के लिए बनाया गया था और फोर्ट्रान ( Fortran ) जो की इंजीनियरिंग और Scientific Purpose के लिए बनाया गया था । 
                                                                                    
                                                                                          फिर लोग सोचे की इतना सारा language को हटकर क्यों न एक ऐसा लैंग्वेज बनाया जाए जो की सभी Application या Software को बनाने के लिए उपयोग मे लिया जा सके इसलिए एक टीम का गठन किया गया जो की Alogol 60 के साथ आए लेकिन ये Language भी Popular नहीं हो पाया । 
 
इसके बाद एक और प्रोग्रामिंग लैंग्वेज को बनाया गया जो की Combined Programming Language ( CPL ) था जो की Cambridge University मे बनाया गया था लेकिन ये भी फेल हो गया क्योंकि इसको समझना और Implement करना बहुत कठिन  था । 
 
                                                                                          और ऐसे ही बहुत सारे Language को Try करते हुए लास्ट मे 1972 मे C Language को बनाया गया जो की डेनिस रिची ( Denis Richie ) के द्वारा AT&TS Bell Laboratories मे बनाया गया । 
 

About C Language In Hindi | C Language Kya Hai

C Language एक Procedural Programming Language है जो की USA के Bell Laboratories मे बनाया गया था जो की Denis Richie के द्वारा बनाया गया था जो की 1972 मे बनाया गया था । ये एक Powerful Language है जो की High Level Language है । 
 
                                                                                      ये सबसे पोपुलर है क्योंकि ये सबसे ईजी, Reliable और सिम्पल है ये इसलिए क्योंकि इसमे आप किसी भी प्रोग्राम को एक कंप्युटर से दूसरे कंप्युटर मे ईज़ली मूव कर सकते है । 
 
आशा करता हूँ अभी आप समझ गए होंगे की What Is C Language In Hindi?
                                                                                     

C Tokens In Hindi

What Is C Tokens In Hindi – Programming Language मे Smallest Unit को टोकेंस कहते है, C Language, Tokens का Collection होता है जो की Basic Building Block होता है c Language के जो की Program को बनाने मे काम आता है । 
 
                                                                               C Language Tokens 6 प्रकार के होते है जो की नीचे बताया गया है –
 
  1. Keyword
  2. Identifier
  3. Constant
  4. Special Symbol
  5. String
  6. Operators
  • Keyword – Keyword एक Pre-define Word है जो की हरेक Keyword एक अलग अलग काम करता है और C Language मे लिखा हुआ हरेक Word या तो keyword होता है या ओहिर Identifier होता है । और हरेक keyword का Fix Meaning है जो की कभी Change नहीं हो सकता है ।  

                                                                                         सबसे खास बात ये है की Keywords हमेशा Lower 

          case मे लिखा हुआ होना चाहिए और C Language 32 Keywords को Support करता है जो की नीचे 
          दिखाया गया है । 
 

 auto

double 

int 

struct 

break 

else 

long 

switch 

case 

enum 

register 

type def 

char 

extern 

return 

union 

const 

float 

short 

unsigned 

continue 

for 

signed 

void 

default 

 go to 

size of 

volatile 

do 

if 

static 

while 

 
  • Identifier – इसमे दो वर्ड को मिलाने के लिए आपको दोनों वर्ड के बीच मे Underscore ( _ ) लगाना पड़ता है और इसके बाद हरेक प्रोग्राम मे Element के साथ जो भी नाम दिया रहता है उसको Identifier कहते है । 
 
          जैसे – Char Stu_name [30]
 

Rules For Constructing Identifier Name 

  1. इसमे आपका पहला Character Alphabet होना चाहिए । 
  2. Identifier, Keyword नहीं होना चाहिए । 
  3. Identifier मे White Space नहीं होना चाहिए । 
  4. Identifier मे 2 वर्ड को ऐड करने के लिए आपको Underscore का ही उपयोग करना चाहिए । 
 
  • Constant – जैसा की हम सभी जानते है की Constant मतलब Fixed Value होता है जो की कभी Change नहीं होता है वैसा ही इसमे भी आपका है की वैल्यू Fix करने के लिए Constant का उपयोग होता है और इसमे सबसे खास बात ये है की इसमे आपको Basic Data Type सपोर्ट करता है जैसे की Integer, Float, और Point Constant । 

Structure Of C Language In Hindi

C Program एक Building Block जैसा दिखता है जिसका मतलब है की इसमे कई तरह के ब्लॉक होते है और हरेक ब्लॉक का अलग अलग मतलब होता है । इसमे एक और उससे अधिक सेक्शन होता है जो की नीचे दिखाया गया है । 
 
Structure Of C Language In Hindi

 

 
 
  • Documentation Section  – इसमे आप अपने प्रोग्राम के नाम और क्या चीज पर प्रोग्राम बना रहे है उसके बारे मे या फिर अलग अलग डीटेल डालने के लिए use मे लिया जाता  है । जैसे की आप अपने प्रोग्राम मे हेडिंग या फिर Question लिख सकते है । 
     
  • Link Section – ये Compiler को Instruction देता है की Function को लिंक करने के लिए सिस्टम लाइब्रेरी से । 
     
  • Definition Function – इसमे आप अपने प्रोग्राम के Business को ऐड करना होता है । 
  • Global Declaration –  इस Section मे आप अपने प्रोग्राम के Global Variable, और Global Function को Declare करते है 
  • Main Function – इसमे दो पार्ट होता है जो की नीचे बताया गया है । 
  1. Declaration Part – ये वैसे Variable को Declare करता है जो की Executable Part मे होता है । 
  2. Executable Part –  इस पार्ट मे वो सारे Statement Block का लिस्ट होता है जो की Execute होने वाला होता है । 
  • Sub Program Function – इसमे वो सारे User Define Function होता है जो की Main Function मे Call किया हुआ होता है और सबसे खास बात की User Define, Main Function के बाद ही Place होता है । 
Read Also
 
 
 
Conclusions 
 
दोस्तों आशा करता हूँ की आपको आज पता चल गया होगा की C Language Kya Hota Hai, What Is C Language In Hindi और About C Language In Hindi, जो की हरेक Programmer को जानना चाहिए क्योंकि ये सबसे बेसिक प्रोग्रामिंग लैंग्वेज है और इसके ही अगर आप नहीं जानोगे तो आपको कैसे ये सब पता चलेगा । 

About hindimemaster

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »